जरासंध, कालयवन, विश्वकर्मा और श्रीकृष्ण: महाभारत के महत्वपूर्ण उपदेश

महाभारत के इस महत्वपूर्ण उपदेश में हरिवंश से जुड़े कुछ प्रसंग देखते हैं। इनमें तीन लघुकथाएं हैं जो श्री कृष्ण, जरासंध, कालयवन, विश्वकर्मा और द्वारावती के बारे में हैं।

महाभारत सर्प सांप 

महाभारत तथा सर्प – एक विरल चित्ताकर्षक संबंध

महाभारत का वर्णन कैसे आरंभ होता है? चलिए, शुरू से शुरू करते हैं  – जनमेजय का सर्प-सत्र। इस सर्प यज्ञ का उद्देश्य तक्षक और उनके परिजनों का विनाश करना था। इस यज्ञ से संपूर्ण नागवंश के अस्तित्व का विनाश होने का भय था।